अजनबी आदमी ने मम्मी को चोदा

0
Loading...

प्रेषक : राहुल कुमार
हाय रीडर मैं राहुल कुमार आपको एक घटना बताने जा रहा हूँ जो की मेरी मम्मी के साथ हुई थी जिसने मेरी मम्मी को एक साधारण सी हाउसवाईफ से बदलकर एक अंजान आदमी की रंडी बना दिया है ये घटना आज से दो साल पहले की है जब मैं बिज़नस मेनेजमेंट का कोर्स कर रहा था हमारे घर में मैं मेरे पापा और मेरी मम्मी रहती है मेरे पापा सरकारी जॉब करते है मेरी मम्मी एक हाउसवाईफ है मेरी मम्मी का नाम रश्मि है.
मैं आपको अपनी मम्मी के बारे मैं बताता हूँ मेरी मम्मी की उम्र उस समय 42 साल की थी मेरी मम्मी का रंग गोरा और शरीर भरा हुआ है मम्मी के बूब्स 40 और हिप्स 44 के है किसी का भी दिल करेगा उनको चोदने का वो हमेशा साड़ी पहनती है और उसमें वो काफ़ी सेक्सी लगती है और मुझे पता है हमारी बिल्डिंग के काफ़ी लोग उनके बारे मैं ग़लत विचार रखते है अब मैं स्टोरी पर आता हूँ एक बार मैं अपनी मम्मी के साथ स्टोर से सामान खरीदने गया हम सामान बास्केट मैं रख रहे थे तो मैने देखा की एक आदमी जो की 6 फुट लंबा है मेरी मम्मी को घूरे जा रहा है.

हमने सामान लिया और पेमेंट करके अपने घर वापस आ गये। हमारे घर पहुचने के 5 मिनिट के बाद ही डोर बेल बजी मेरे पापा ने गेट खोला तो मैने देखा की वो ही आदमी हाथ मैं एक पैकेट लेकर खड़ा था पापा ने बोला हां जी किससे मिलना है तो उसने कहा जी अभी अभी आपके यहाँ से कोई स्टोर से सामान लेने गया था और पेमेंट के बाद वो ये पैकेट काउंटर पर ही भूल आया तो मैं इसे आपको देने आया हूँ पापा ने कहा की आपको हमारे घर के बारे मैं कैसे पता चला तो उसने बताया की मैं पास वाली बिल्डिंग मैं रहता हूँ इसलिये आपको देखा है पापा ने उसे अंदर बुलाया और थैंक्स कहा। मम्मी ने चाय बनाई और उसे दी तो वो लगातार मेरी मम्मी को घूरता रहा उसने अपना नाम अशोक बताया पापा ने पूछा की और कौन कौन आपके घर मैं रहता है तो उसने बताया की मैं अकेला हूँ मेरा तलाक हो गया है मैं यहाँ 2 वीक से हूँ मेरा ट्रान्सफर मुंबई से यहाँ हुआ है.

फिर वो घर से चला गया पापा ने उसे फिर आने के लिये कहा दिन पर दिन बीतते चले गये वो मेरे पापा का अच्छा दोस्त बन गया वीक मैं 2 या 3 बार वो खाना हमारे यहाँ ख़ाता था एक दिन की बात थी मेरे पापा को अगले दिन ऑफीस के किसी काम से भोपाल जाना था 2 वीक के लिये सुबह 6 बजे की ट्रेन थी मैं रात को ही पापा से मिल कर फ्रेंड के यहाँ सोने चला गया अगले दिन सुबह मैं 7 बजे को मैं घर वापस आया मैने मम्मी से पूछा की पापा गये क्या मम्मी ने बोला की हाँ अशोक अंकल उन्हे छोड़ने गये है मैं मम्मी से बोला की मुझको नींद आ रही है रात भर सोया नही हूँ मैं अपने कमरे मैं सोने जा रहा हूँ और मैं अपने कमरे में सोने चला गया 15 मिनिट के बाद डोर बेल बजी मेरी आँख भी खुल गयी तो मैने देखा की अशोक अंकल आये थे.

मम्मी ने कहा की छोड़ आये आप उन्होने कहा की हाँ। मम्मी ने कहा की राहुल भी आ गया है तो अशोक अंकल ने कहा की मैं देख कर आता हूँ साथ बैठ कर चाय पीयेगें वो मेरे रूम मैं आये पर मैं बाहर नही जाना चाहता था तो मैं बेड पर लेट गया उन्होने कई आवाज़ लगाई तो भी नही उठा तो वो चले गये मैं फिर खड़ा हो कर देखने लगा वो मेरी मम्मी के पास जा कर बोले वो तो सो रहा है मेरे लिये ही चाय बना दो मेरी मम्मी ने उनके लिये चाय बनाई वो मम्मी की गांड को घूर के देख रहा था और अपने लंड को सहला रहा था मुझको पता चल गया की आज मेरी मम्मी को चोदा जायेगा फिर वो मम्मी से इधर उधर की बाते करने लगा जानबूझ कर मम्मी को टच करने लगा.

उसने मम्मी से पूछा की आप अपने पति के साथ क्यो नही गयी तो मम्मी ने बोला की मौका नही मिला यहाँ काम है मुझको तो अशोक ने कहा सही बात है भाभी जी आपका पति काफ़ी लकी है जो उसे आपकी जेसी वाईफ मिली। मम्मी हंस पड़ी और बोली चलो अशोक भाई साहब अब मुझको घर का काम करना है आप प्लीज़ बाद मैं आना तो अशोक ने कहा की जल्दी क्या है काम तो बाद मैं भी होता रहेगा आज मुझे मौका मिला है मेरी मम्मी ने कहा क्या मतलब अशोक ने कहा देखो भाभी जी मुझे सिर्फ़ अशोक कहा करो भाई साहब मत कहा करो मम्मी ने कहा की प्लीज़ अपनी लिमिट क्रॉस मत करो और जाओ यहाँ से अशोक ने कहा मैं यहाँ से नही जाऊँगा इतने दिन के बाद तो मौका मिला है तुम्हे जी भर के देखने का और वो मम्मी के पीछे आ कर मम्मी के हाथ पकड़ने लगा मम्मी ने अपने आप को उससे दूर किया और बोली की ये आप क्या कर रहे हो.

उसने कहा तुम्हे प्यार जिसकी मुझे कब से चाहत थी मम्मी ने कहा की मैं शोर मचा दूँगी उसने कहा की नुकसान तुम्हारा ही होगा मैं तो बोल दूँगा की इसका पति बाहर चला गया है तो इसने मुझे बुलाया है और तुम्हारा बेटा क्या सोचेगा इसलिये चुपचाप मैं जो कहता हूँ वो कर लो किसी को नही पता चलेगा मम्मी रोने लगी मम्मी ने कहा मैं ये सब नही कर सकती मैं एक शादीशुदा हूँ और एक बच्चे की माँ भी हूँ मैं किसी अंजान आदमी के साथ ना ना। अशोक ने कहा की कुछ नही होगा तुम इस घर की शादीशुदा औरत हो जिसको एक मर्द से प्यार चाहिये और तुम्हारे पति ने मुझे बताया था की काफ़ी सालो से उसने तुम्हारे साथ सेक्स नही किया.

तुम भी मेरी तरह हो मैने भी तलाक के बाद से सेक्स नही किया और तुमने भी शादीशुदा होते हुये भी सालो से सेक्स नही किया मम्मी ने कहा की नही ये ग़लत है उसने कहा की कुछ भी ग़लत नही है और पीछे आ कर अपना लंड पैंट के अंदर से ही मम्मी की गांड पर लगाने लगा मम्मी दूर हो गयी उसने कहा की जब तक तुम नही चाहोगी मैं तुम्हारे साथ ऐसा कुछ नही करूँगा हम सिर्फ़ ओरल करेंगे और ओरल सेक्स मैं तो कोई प्रोब्लम नही है मम्मी ने अपनी गर्दन नीचे झुका ली मम्मी बोली राहुल घर पर है अशोक अंकल ने कहा की वो सो रहा है और 4-5 घंटे बाद उठेगा जब तक हम इन्जॉय कर सकते है.

मम्मी ने कहा की मुझे डर लग रहा है कुछ गड़बड़ हो गयी तो अशोक ने कहा की कुछ नही होगा और मम्मी का हाथ पकड़कर मेरे रूम के पास वाले रूम मैं ले आया मेरे रूम और पास वाले रूम का कॉमन बाथरूम है मैं वहां जाकर रोशनदान मैं से देखने लगा मेरी मम्मी सोफे पर बैठ गयी मम्मी घबराई हुई सी लग रही थी अशोक भी मम्मी के साथ बैठ गया और मम्मी के फेस पर हाथ फेरने लगा मम्मी को अजीब सा लग रहा था फिर उसने मम्मी की लिप्स को चूसना शुरू किया मम्मी को शुरू मैं अजीब सा लग रहा था लेकिन बाद मैं वो भी इन्जॉय करने लगी मम्मी के पिंक होंठ उसके बड़े मुँह के अंदर गायब हो गये थे फिर उसने मम्मी के बूब्स को उपर से दबाना शुरू किया मम्मी ने उसका हाथ हटा दिया उसने फिर मम्मी के बूब्स को दबाना शुरू किया मुझको मालूम था की अशोक को कितना मज़ा आ रहा होगा मम्मी के बड़े बड़े बूब्स को दबाते हुये मम्मी दर्द के मारे सिसकियां भर रही थी आह प्लीज़ अशोक मत करो प्लीज़ दर्द हो रहा है पर वो सुनने वाला नही था वो मम्मी के पूरे फेस पर किस कर रहा था और साथ ही साथ बूब्स भी मसल रहा था.

मम्मी ने उसे एक झटके से हटा दिया मम्मी ने कहा की काफ़ी है तुमने ओरल कहा था वो हो गया अशोक गुस्से से बोला की अभी कुछ भी नही हुआ है और तुम तो ऐसे शर्मा रही जो जेसे की पहली बार है मम्मी के मुँह से निकल गया की इस तरह तो पहली बार है मुझको डर लग रहा है ये सुन कर अशोक फिर से मम्मी के पास आ गया और मम्मी के बूब्स को पूरी ताक़त के साथ दबाने लगा मम्मी पागल हो गयी दर्द के मारे और चिल्लाने लगी प्लीज अशोक मत करो दर्द होता है बहुत अशोक मम्मी का ब्लाउज उतारना चाहता था पर मम्मी ने मना कर दिया और जा के बेड पर लेट गयी अशोक ने कहा की क्या हुआ मम्मी ने कहा की काफ़ी दर्द हो रहा है तुमने काफ़ी ज़ोर से किया है प्लीज मत करो अशोक अपसेट हो गया और गुस्से मैं बोला ठीक मैं जा रहा हूँ तुम चाहती ही नही की मैं कुछ अच्छा करूँ तुम्हारे साथ मम्मी ने बोला ऐसा नही है लेकिन मुझे शर्म आ रही है तो अशोक ने बोला ठीक है तुम नही कर सकती तो मैं तो कर सकता हूँ.

Loading...

उसने अपनी पैंट खोली और उतार दी और अंडरवेयर मैं से अपना लंड बाहर निकाला उसका लंड स्प्रिंग की तरह बाहर आया मैं देख कर हेरान था उसका लंड कम से कम 9 इंच का तो था वो लंड निकाल के मम्मी के उपर बैठ गया मम्मी ने शर्म के मारे फेस उधर कर लिया वो अपना लंड हिलाने लगा मम्मी ने कहा की ये क्या कर रहे हो उसने कहा की मूठ मार रहा हूँ मम्मी ने कहा की दूर हटो लेकिन वो नही हटा और मूठ मारने लगा थोड़ी देर बाद उसने अपने लंड का पानी मम्मी के फेस पर और ब्लाउज पर निकाल दिया मम्मी को घिन आ रही थी मम्मी ने उठ कर टिश्यू से अपना फेस साफ किया और बाहर जाने लगी अशोक ने मम्मी का हाथ पकड़ के खीच लिया और बोला प्लीज़ सकिंग करो मेरे लंड की मम्मी ने मना कर दिया तो उसने कहा चलो मेरा लंड अपने हाथ मैं ले कर हिलाओ मम्मी उसका लंबा और मोटा लंड हिलाने लगी.

मेरी मम्मी के गोरे हाथ मैं उसका लंड एकदम मस्त लग रहा था फिर वो खड़ा हो गया और मम्मी के लिप्स पर लंड को रखकर जबरदस्ती अंदर मुँह मैं डालने लगा मम्मी ने मुँह नही खोला तो उसने मम्मी की नाक को बंद कर दिया ताकि मम्मी सांस लेने के लिये मुँह खोले मम्मी ने जैसे ही मुँह खोला उसने अपना लंड मम्मी के मुँह मैं दे दिया फिर मम्मी को भी उसे मजबूरन उसे चूसना पड़ा वो मम्मी के मुँह मैं झड़ गया फिर उसने मम्मी को बेड पर लेटा दिया और किसी तरह मम्मी का ब्लाउज खोल दिया और ब्रा भी मम्मी विरोध करती रही लेकिन उसने एक ना सुनी ब्रा खुलते ही वो तो जैसे पागल ही हो गया.

मेरी मम्मी के 40 साइज़ के बूब्स देख कर मम्मी अपने हाथो से बूब्स को छुपाने लगी तो वो बोला क्या चीज़ है तू रश्मि मम्मी ने कहा प्लीज़ मत करो ये अच्छी बात नही है उसने कहा की मैं अब कुछ भी अच्छा बुरा नही जानता मैं बस तुम्हे चाहता हूँ जब से मैं यहाँ आया हूँ तब से मैं तुम्हारे लिये पागल हूँ और जब आज मुझे मौका मिला है तो मैं तुम्हे कैसे जाने दूँ प्लीज रश्मि अपने हाथ हटाओं प्लीज़ मम्मी ने कहा प्लीज़ आराम से करना प्लीज़ और मम्मी ने डरते हुये अपने हाथ हटा लिये फिर क्या था अशोक तो ऐसे पागल हो गया वो मेरी मम्मी के बूब्स को चूसने लगा कभी निपल को ज़ोर से दबाता या कभी दोनो बूब्स को एक साथ पकड़ के ज़ोर से हिलाने लगता मम्मी भी इन्जॉय कर रही थी मम्मी ने कहा प्लीज बंद करो ये खेल प्लीज़ मैं मर जाऊंगी प्लीज़ अहह.

उसने मम्मी के बूब्स को चूसते हुये मम्मी की टांगो के बीच मैं हाथ देने लगा मम्मी ने उसका हाथ पकड़ के हटा दिया तो उसने मम्मी के निपल पर काट लिया मम्मी ज़ोर से चीक पड़ी अहह प्लीज़ मुझे दर्द हो रहा है प्लीज़ समझने की कोशिश करो आह प्लीज़ अहहाः फिर उसने मम्मी को चाटना शुरू किया और पेट पर भी अपनी जीभ से सहलाने लगा और उसके बाद वो मम्मी की सारी बॉडी पर किस करने लगा और मम्मी के कान को सहलाने लगा और काट लिया मम्मी ने कहा तुम्हारे अंदर तो जानवर है मम्मी ने कहा की क्या तुम हमारे घर मैं इसलिये आये थे की मेरे साथ ये सब कर सको तो अशोक ने कहा की हाँ सिर्फ़ तुम्हारे लिये मेरी मम्मी ने कहा की तुमने मेरी हालत खराब कर दी है तुमने मुझे एक बाज़ारु रंडी की तरह चूसा है.

मेरी मम्मी की बॉडी पर जगह जगह काटने के निशान थे गर्दन पर फेस पर पेट पर मेरी मम्मी बेड पर सिर्फ़ पेटिकोट मैं बैठी थी मम्मी के बाल खुले थे ओर चूड़िया भी टूट गयी थी थोड़ी बहुत और अशोक मेरी मम्मी को अभी भी चूसे जा रहा था उसने मम्मी से कहा की रश्मि मैं तुम्हे नंगा करके देखना चाहता हूँ प्लीज़ मना मत करना मेरी मम्मी ने कहा की तुमने मेरे शरीर पर छोड़ा ही क्या है मैं ऐसा नही कर सकती तो अशोक ने जबरदस्ती मम्मी का पेटीकोट उतार दिया और पेंटी भी अब मेरी मम्मी एक अंजान आदमी के सामने पूरी नंगी बेड पर लेटी थी मम्मी को शर्म आ रही थी मम्मी ने कहा की अशोक तुमने मुझे रंडी बना दिया है मैने सोचा भी नही था की मैं बिना कपड़ो के नंगी किसी अंजान के सामने लेटी रहूँगी.

Loading...

अशोक ने कहा की मैं कोई अंजान नही हूँ मैं तुमसे प्यार करता हूँ और अब हमारे बीच वो सब कुछ हो गया है जो की पति पत्नी की बीच होता है अशोक ने मम्मी की टांगे खोली और अपनी उंगलियो से मम्मी की चूत के लिप्स हटाने लगा अशोक ने कहा की तुम्हारी चूत तो किसी कुवांरी लड़की की चूत के जैसी है। लगता है की तुम्हारे पति ने इस पर मेहनत नही की तो मम्मी ने बोला मेरा बेटा भी ओपरेशन से हुआ है इसलिये ये ऐसी है प्लीज तुम कुछ मत करना अशोक ने मम्मी की चूत को चाटना शुरू किया मम्मी पागला हो गयी नही अशोक प्लीज़ रहने दो प्लीज़ तुम्हे मेरी कसम मत करो प्लीज 10 मिनिट तक अशोक चूत को चाटता रहा उसके बाद उसने मम्मी को मोबाइल मैं ब्लू फिल्म दिखाई मम्मी आहे भरने लगी और अपने आप ही अशोक का लंड हाथ मैं ले कर हिलाने लगी अशोक ने मम्मी से पूछा की क्या रश्मि मैं अपना लंड तुम्हारी चूत मैं डाल सकता हूँ.
मम्मी ने कहा की तुम सब कुछ तो कर चुके हो अब ये पूछने की क्या जरूरत है तुमने मुझे रंडी तो बना दिया है अब चोद भी दो अशोक को ग्रीन सिग्नल मिल गया उसने अपने लंड को मम्मी की चूत के मुँह पर लगा के रगड़ने लगा मम्मी की तडप बडने लगी मम्मी बोली अह्ह्ह प्लीज़ अशोक प्लीज़ अहहा मत करो डाल भी दो अशोक ने कहा की तुमने भी मुझको काफ़ी इंतज़ार कराया है तुम भी तो करो मम्मी ने कहा की मैं मजबूर थी समाज के कारण तुमने मुझे ज़िंदगी भर का प्यार दिया है प्लीज़ आहह अशोक ने बोला तो बताओ किसका लंड ज्यादा बड़ा और मोटा है अपने लंड को मम्मी की चूत के मुँह पर और जाँघ पर रगड़ते हुये पूछा मम्मी शर्मा गयी और बोली तुम्हारा ही ज्यादा बड़ा है और मोटा भी है.
मैने ऐसा लंड कभी नही देखा था और अपने हाथ मैं पकड़ा था अब प्लीज़ करो ये सुन कर अशोक को जोश आ गया और उसने धीरे से अपन लंड मम्मी की चूत मैं घुसाया मम्मी दर्द के मारे कांप उठी उसने और झटका लगाया और मम्मी बहाल हो गई आहह आराम से प्लीज़ अशोक ने 2-3 झटके मारे और पूरा लंड मम्मी की चूत मैं चला गया मम्मी दर्द के मारे चिल्लाने लगी आअहह प्लीज़ आराम से हिलाओं प्लीज़ मैं मर जाऊंगी प्लीज़ अशोक अहह ये काफ़ी बड़ा है प्लीज़ अशोक ने अपनी स्पीड बड़ा दी मम्मी की आँखो से आसूं निकल पड़े करीब 20 मिनिट के बाद दोनो शांत हो गये अशोक मम्मी के उपर ही लेट गया और मम्मी को किस करने लगा और मम्मी के लिप्स को चूसने लगा.

फिर वो खड़ा हुआ तो उसने मम्मी की चूत को टिश्यू पेपर से साफ किया मम्मी की चूत का मुँह खुल चुका था मम्मी एक रंडी की तरह बेड पर लेटी थी और ज़ोर ज़ोर से साँसे ले रही थी मम्मी ने कहा की अशोक तुमने मुझे बड़ी ज़ोर से चोदा है मैने ऐसी चुदाई नही की थी मुझको तुमने रंडी बना दिया ये सुन कर अशोक मम्मी के बूब्स को चूसने लगा अब मम्मी की तरफ से कोई विरोध नही था अशोक ने अपना मोबाइल निकाल के मम्मी की नंगी विडियो बनाई मम्मी ने कहा की क्या कर रहे हो अशोक ने बोला जी जब भी मन करेगा ये देख कर तेरे नाम की मूठ मार लूँगा मम्मी ने कहा की वो तो तुम पहले करते होगे अशोक ने कहा की हाँ रोज़ तेरे बारे मैं सोच कर मूठ तो मारता था में अशोक ने कहा तुम बेड पर नंगी लेटी हुई बड़ी सेक्सी लगती हो उसने मम्मी को उल्टा कर दिया और बोला जानू मैं तुम्हारी गांड मारना चाहता हूँ मम्मी ने बोला नही मैने ये नही किया कभी काफ़ी दर्द होगा.

उसने मम्मी की गांड मैं उंगली डालकर खोलने की कोशिश की तो देखा की गांड का छेद तो काफ़ी छोटा है उसने कहा की अगली बार तो ज़ररू मारूंगा तो मम्मी ने कहा की अब तो 2 वीक तक तुम मेरे साथ कुछ भी कर सकते हो तो अशोक ने बोला कल की बात बाद मैं अभी एक राउंड और करते है उसने मम्मी को फिर से ज़म के चोदा और जैसे ही वो झड़ने वाला था तभी उसने अपना लंड मम्मी के लिप्स पर रख दिया और सारी मलाई मम्मी के फेस पर आ गयी फिर उसने मम्मी के मुँह मैं अपना लंड दे दिया और मम्मी ने उसे चूस के साफ किया मम्मी खड़ी हुई और बोली तुमने अपने लंड का पानी मेरी चूत के अंदर छोड़ दिया है कुछ गड़बड़ हो गयी तो अशोक ने कहा की कुछ नही होगा हम डॉक्टर के पास चलेंगे और अगली बार से कन्डोम ले कर आऊंगा मम्मी ने कहा की नही कन्डोम से मज़ा नही आयेगा तुम्हारे लंड को टच करने की फीलिंग नही मिलेगी और उसका लंड लेकर हिलाने लगी और उस पर किस करने लगी.

मम्मी ने बोला की अगली बार तुम अपने लंड के बाल साफ करके आना चूसते वक़्त मुँह मैं आते है अशोक ने कहा ठीक है लेकिन मुझे तुम्हारी चूत ऐसे ही पसंद है एक घरेलू औरत की चूत ऐसी ही होनी चाहिये और फिर मम्मी को अपने सीने से लगा कर किस करने लगा और कपड़े पहन कर जाने लगा और मम्मी भी नहाने के लिये बाथरूम मैं जाने लगी क्योकी अशोक के लंड के पानी के निशान मम्मी की बॉडी पर सूखने के बाद साफ दिख रहे थे ये मेरी मम्मी की चुदाई की स्टोरी है.

उस दिन ले कर आज तक अशोक ने मम्मी को ना जाने कितनी बार चोदा और एक दोस्त से भी चुदवाया वो स्टोरी मैं आपको बाद मैं बताऊंगा। अगर यह कहानी अच्छी लगे तो इसे शेयर जरूर करना..

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


hinfi sexy storyhindi sex wwwteacher ne chodna sikhayahindi sexy kahaniya newsexe store hindehinde sexe storesexy striessex store hindi memosi ko chodahinde sexi kahanikamuktha comstory for sex hindisexy story hibdidownload sex story in hindisexy hindy storiessexy story new in hindihindi sex stories to readhindhi sex storisexy story in hundihindi sex astorihendhi sexsex story hindi fontsex story read in hindisex ki hindi kahaniread hindi sexsaxy story hindi msex stories hindi indiahindi saxy storenanad ki chudaisx stories hindisex kahani in hindi languagesexy story hundisexy story hindi mesexstorys in hindihindi sexy stoeysexy story com in hindisex sex story in hindisexy kahania in hindihendi sexy storeyhinde sexy kahanihindi history sexsexy stroifree hindi sex story in hindihindi kahania sexsexy storishhindi sex story comsexi hindi estorisex ki story in hindisexy stiorysexy adult story in hindiread hindi sex kahaninanad ki chudaichudai story audio in hindisex hindi story comhinfi sexy storysex hindi sitoryall hindi sexy kahanimosi ko chodahindi sexy kahaniwww hindi sexi kahanisexy stoeyhinde six storysexey stories comhindi story for sexsax hinde storesexy srory in hindihindi sex stories allfree sexy story hindisexy hindi font storieswww sex kahaniyahindi sex kahaniaupasna ki chudaihendi sexy storysexy story in hindi fontfree sexy stories hindihondi sexy storysexy stori in hindi fontsex hindi stories comwww sex kahaniyahindi sexy storihindi sexy istorisexy story new hindiwww hindi sexi storysex hindi stories comsexy stoy in hindihindi sex kahani newhindi sexstoreishindi sexy kahani in hindi fontbadi didi ka doodh piyamonika ki chudaihindi sexy storiseindian sex stories in hindi fontshinde sexy sotry