में और मेरी बुआ की नंगी जवानी

0
Loading...

प्रेषक : आकाश …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम आकाश है और मेरी उम्र 22 साल है आज में आप सभी को अपने जीवन में घटी एक सच्ची कहानी सुनाने के लिए कामुकता डॉट कॉम पर आया हूँ। में पिछले कुछ सालों से सेक्सी कहानियों को पढ़कर उनके मज़े लेता आ रहा हूँ और में उम्मीद करता हूँ कि आज में जो अपनी कहानी सुनाने जा रहा हूँ यह आप सभी पढ़ने वालो को जरुर पसंद आएगी। दोस्तों में राजस्थान के एक छोटे से गाँव का रहने वाला हूँ और यह बात आज से सात साल पहले की है जब मेरे पिताजी ने मुझे मुम्बई उनकी बहन जो कि एक विधवा औरत है और वो वहां पर अकेली ही रहती थी उनके वहां पर मेरी आगे की पढ़ाई करने के लिए भेज दिया था। दोस्तों में पहले में आप सभी को अपने बारे में भी बता दूँ। मेरा रंग गोरा चिट्टा और गठीला बदन है जो किसी के भी मन में एक बार मुझे देखते ही समा जाए और हर कोई मुझे पहली बार देखकर मेरी तरफ आकर्षित हो जाता है। अब में अपनी आज की कहानी को शुरू करता हूँ।

दोस्तों में उस समय मेरी गर्मियों की छुट्टियों के समय मुम्बई अपनी बुआ के घर चला गया था, पहले पहले तो मुझे अपने गाँव से शहर में आकर बहुत मुश्किल होती रहती थी, लेकिन थोड़े दिनों के बाद में सब कुछ सीख गया था, मेरी बुआ विधवा थी और वो यहाँ के एक प्राइवेट बेंक में काम करती थी।

Loading...

दोस्तों उन दिनों मेरी बुआ की उम्र करीब 40 साल के आसपास थी और वो एकदम गोरी चिट्टी और भरे हुए गदराए बदन वाली एक औरत है उनके फिगर का आकार 38 32 38 उनके बूब्स आकार में बड़े और ठीक वैसे ही बड़े उनके कूल्हें भी थे इसलिए वो जब भी चलती थी तब उनके कुल्हें और बूब्स क्या मस्त हिलते थे में तो उनको हिलता हुआ देखकर ही एकदम दंग रह जाता था। फिर एक दिन शाम के समय में बाहर खेल रहा था उसी समय जोरदार बारिश होने लगी और में उस बारिश के पानी में भीगकर घर आ गया, वो भी तब घर पर ही थी और में बहुत बुरी तरह से भीग चुका था। गीले होने की वजह से मेरे सारे कपड़े मेरे बदन से चिपक गये थे। तो मुझे उस हालत में देखकर वो मुझसे कहने लगी कि चलो बेटा जल्दी से बाथरूम में जाकर तुम नहा लो और यह गीले कपड़े भी तुरंत बदल डालो, वरना तुम्ह्हे ज़ुखाम, बुखार हो जाएगा। फिर मैंने कहा कि हाँ ठीक है उसके बाद में बाथरूम में चला गया उसके बाद मैंने बहुत कोशिश करके देखा, लेकिन मुझसे से पानी चालू नहीं हुआ और तब मैंने आवाज देकर अपनी बुआ को बुला लिया और उन्होंने पानी को चालू करने के बाद वो मुझसे कहने लगी कि चलो बेटा आज में ही तुम्हे नहला देती हूँ वो अब बाथरूम में पूरा अंदर आ गयी। फिर उन्होंने मेरी शर्ट को उतार दिया और उसके बाद उन्होंने मेरी पेंट को भी झट से नीचे खींचकर निकाल दिया। उस वजह से में अब अपनी नीले रंग की अंडरवियर में था और इसलिए मुझे बहुत शरम आ रही थी। फिर बुआ ने मेरी अंडरवियर को अपने दोनों हाथों से पकड़कर मुझसे बोला कि तुम अब इसको भी उतार दो और तब मैंने उनसे बोला कि नहीं बुआ मुझे शरम आ रही है, बुआ ने फिर एक ही झटके से खींचकर मेरी अंडरवियर को उतार दिया। अब में उनके सामने बिल्कुल नंगा खड़ा हुआ था और मेरी बुआ मुझे अपने हाथों से नहला रही थी। उन दिनों मेरे लंड का आकार चार इंच लंबा और उसकी मोटाई दो इंच थी। फिर मेरे लंड को देखने के बाद मैंने अपनी बुआ की आखों में एक अजीब सी चमक को देखा था और मैंने उनकी आखों में एक शरारत भी देखी तब वो मुझे नहला रही थी और फिर वो मेरे लंड को भी बीच बीच में सहला भी रही थी उसके कुछ देर बाद उनका मुझे नहलाना खत्म हुआ में बाथरूम से सीधा बाहर आकर तुरंत अपने कपड़े पहनने लगा था उस समय भी बुआ मेरे पीछे आकर मुझे देखकर मुस्कुरा रही रही और तब मुझे उनके मन में क्या सब चल रहा है इसके बारे में बिल्कुल भी पता नहीं था। फिर रात को हम दोनों ने साथ में बैठकर खाना खाया और उसके कुछ घंटो के बाद हम दोनों अपने अपने कमरे में सोने चले गए और में गहरी नींद में सो गया और ऐसे ही थोड़े दिन बीत गए, लेकिन मैंने देखा कि अब बुआ की आखों में मेरे लिए एक चमक आ गयी थी और वो मुझे अब हमेशा अपनी उन अजीब सी नज़रों से देखने लगी थी। उनका व्यहवार मेरे लिए बिल्कुल ही बदल चुका था, जिसको में धीरे धीरे महसूस कर रहा था और उसके बाद उन्होंने मुझसे एक रात को बोला कि आज से तुम भी मेरे ही कमरे में सो जाना। फिर मैंने उनसे कहा कि हाँ ठीक है और फिर में उसी रात को उनके कमरे में सोने के लिए गया। तब मैंने देखा कि उस रात को मेरी बुआ ने हल्के नीले रंग की मेक्सी पहनी हुई थी और उस मेक्सी में से मुझे उनके वो उभरे हुए बड़े आकार के बूब्स और वो मटकते हुए गोलमटोल कूल्हें साफ साफ दिख रहे थे क्योंकि उनकी वो मेक्सी एकदम जालीदार थी और तब मैंने देखा कि उन्होंने उस मेक्सी के अंदर सफेद रंग की ब्रा और उसी रंग की पेंटी पहनी हुई थी जिसमे वो एकदम हॉट सेक्सी बिल्कुल कामदेवी की तरह नजर आ रही थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर मेरे लेटने के कुछ देर बाद उन्होंने अब उठकर लाइट को बंद कर दिया और फिर हम दोनों सो गये, लेकिन मुझे अभी ठीक तरह से नींद भी नहीं आई थी कि तभी थोड़ी देर के बाद मुझे ऐसा लगा जैसे कि कोई मेरे लंड को छू रहा है और उसी समय अचानक से मेरी नींद खुल गई। फिर मैंने उठकर देखा तब में वो देखकर एकदम चकित रह गया था, क्योंकि उस समय मेरी बुआ अपने हाथों से मेरे लंड को मेरी पेंट के ऊपर से सहला रही थी, लेकिन मैंने अब जानबूझ कर ऐसे ही सोने का नाटक किया और थोड़ी देर के बाद उन्होंने अपना हाथ मेरी अंडरवियर के अंदर डाल दिया और वो मेरे लंड को सहलाने लगी थी, जिसकी वजह से अब मुझसे ज्यादा देर रहा नहीं गया और मैंने अपनी आखों को खोल लिया और में बुआ से बोला कि यह आप क्या कर रही हो? तब बुआ बोली कि कुछ नहीं मेरे राजा, में कितने दिनों से बहुत प्यासी हूँ आओ प्लीज तुम आज मेरी प्यास को बुझा दो, में अब बहुत तड़प रही हूँ और मुझसे अब ज्यादा देर रुका नहीं जाता और इतना कहकर बुआ ने एक ही झटके में मेरी पेंट को उतार दिया और उन्होंने मुझे नंगा कर दिया। उसके बाद वो मेरे लंड को सहला लगी और उसको अपने नरम नरम होंठो से चूमने भी लगी थी और फिर कुछ देर बाद मेरा एक हाथ पकड़कर उन्होंने अपने बूब्स पर रख दिया और उसके बाद वो मुझसे बोला कि बेटा अब तुम भी इनको सहलाओ ना, कब तक तुम मुझसे ही मेहनत करवाते रहोगे। अब में भी उनके मुहं से वो बातें सुनकर उनकी हालत को अपनी आखों से देखकर और उनके मुलायम गोरे बूब्स को छूकर उनको महसूस करके थोड़ा सा जोश में आकर धीरे धीरे गरम होने लगा था और अब में भी उनके बूब्स को अपने हाथों से दबा रहा था और उससे पहले ही उन्होंने अपनी मेक्सी को उतार दिया था और अब वो मेरे सामने सिर्फ़ ब्रा, पेंटी में थी और बहुत सेक्सी बड़ी ही कामुक नजर आ रही थी अब उन्होंने मुझे अपनी और खींच अपने ऊपर लेटा दिया और उसके बाद वो मुझे किस करते करते मेरे कूल्हें को अपने मखमली हाथों से सहलाने लगी थी। में भी अब बहुत उत्तेजित हो चुका था और वो मुझे चूम रही थी फिर थोड़ी देर के बाद उन्होंने अपनी ब्रा को भी निकाल दिया और अब उन्होंने मुझसे उनके निप्पल को चूसने को बोला और उसके बाद में बड़े ही प्यार से दोनों निप्पल को बारी बारी से चूसकर मज़े ले रहा था और वो भी अब आहें भर रही थी और सिसकियाँ ले रही थी। फिर उन्होंने मुझसे अपनी पेंटी को उतारने के लिए बोला तो मैंने वैसा ही किया। दोस्तों में अपनी जिंदगी में पहली बार किसी औरत को अपने सामने पूरी नंगी देख रहा था, उनकी वाह क्या मस्त चूत थी। मैंने देखा कि उस पर एक भी बाल नहीं था। वो बिल्कुल चिकनी और बड़ी ही कामुक सर से भरी हुई थी।

फिर उन्होंने मुझसे अपनी चूत को चाटने के लिए बोला और में उनकी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा। वो अब बड़े ही ज़ोर से सिसकियाँ ले रही थी। फिर वो कुछ देर बाद मेरा लंड अपने मुहं में लेकर चूसने लगी और तब तक में बहुत ही उतेज़ित हो चुका था उसके कुछ देर बाद उन्होंने मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत के मुहं पर रख दिया और अब वो मुझे मेरे लंड को उनकी चूत में धक्के मारने के लिए कहने लगी थी। फिर में भी वही कर रहा था जैसा जैसा वो मुझसे कह रही थी और बहुत देर तक मैंने उनको अपने लंड के जोरदार धक्के देकर चोदा उसके बाद वो अब मेरे ऊपर आ गयी और धक्के मारने लगी। उनके मुहं से आह्ह्ह्ह उम्म्म्म हाँ और ज़ोर से मारो हाँ थोड़ा और ज़ोर लगाओ आज तुम मेरी इस आग को बुझा दो। में कब से ऐसे मज़े लेने के लिए तरस रही थी और अब जाकर मुझे वो सुख मिला है जैसी आवाजे निकाल रही थी। फिर में उनके बड़े बड़े कूल्हों को अपने दोनों हाथों से पकड़कर हिला रहा था और वो क्या मस्त सेक्सी क्या नज़ारा था में किसी भी शब्द में लिखकर नहीं बता सकता कि में उस समय क्या और कैसा महसूस कर रहा था, क्योंकि मेरी बुआ मुझे चोद रही थी और लगातार ऊपर नीचे होने की वजह से उनके बड़े आकार के बूब्स ज़ोर ज़ोर से हिल रहे थे। फिर में कुछ देर बाद झड़ गया और उसके थोड़ी देर के बाद वो भी झड़ गई। अब हम दोनों अब एक दूसरे की बाहों में उस चुदाई से थककर नंगे ही सो गए। फिर हम कुछ देर बाद उठकर एक साथ ही बाथरूम में जाकर पूरे नंगे ही नहाए और पानी के नीचे वो मेरे पीछे खड़ी हुई थी और मुझे पीछे से अपनी चूत से सटाकर धक्के मार रही थी और वो मेरे लंड को भी धीरे धीरे सहला रही थी। फिर हम दोनों ने उस रात को कई बार सेक्स किया और उस रात की चुदाई बाद अब हम दोनों एक दूसरे के साथ पति पत्नी की ही तरह रहते है और उन्होंने मुझे चुदाई के बहुत सारे नये तरीके भी सिखाए और मैंने उनको हर बार अगल तरह से चोदकर पूरी तरह से संतुष्ट किया और अब में उनकी वजह से चुदाई में बहुत अनुभवी बन गया हूँ, जिसकी वजह से वो हर बार मेरी चुदाई से खुश रहती है ।।

Loading...

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


sexy striesdesi hindi sex kahaniyansex hindi sitoryhondi sexy storysexi storijsexi khaniya hindi mehindi sexe storibhabhi ko nind ki goli dekar chodasexy kahania in hindisex sex story in hindisex kahani in hindi languagehindi history sexreading sex story in hindichudai story audio in hindisexy story hibdisexy story in hindosexy free hindi storysex kahani hindi fontsexy storyyvidhwa maa ko chodahindi sexy storyihindi sexy story adiosex hinde khaneyahindi saxy storyhind sexi storysexi hindi kathafree hindi sex story audiohindi story for sexhindi story for sexhinde sexy sotryupasna ki chudaihindi sex historyhindi sex story comsexy story un hindidesi hindi sex kahaniyanstory in hindi for sexnind ki goli dekar chodananad ki chudaihindi sexy kahani in hindi fonthinde sax storehindi sex kathasex hindi story downloadhinde sexi storesexy storishsexi kahani hindi memummy ki suhagraatsexy free hindi storysexy free hindi storysex hindi new kahanihindi sexy storehindi sexy atoryhindi sax storehindi sexy storueshindi sax storysexy stoies hindisexy storiywww sex story in hindi comhinde sex estorehindi sex story sexstore hindi sexhindi sex story hindi sex storysexy stoerihindu sex storihindi sexstoreiskamukta comhindi sex stories read onlinesexi kahania in hindisex hindi sex storyhindi sexy story adiodesi hindi sex kahaniyanhindi sexy stoireshindi sex kahaniasexy story com hindihindi sex kahinihindi sex kathahindi sexi kahanihindisex storeyadults hindi storiesnew sex kahanisex kahani in hindi languagehindi sex story hindi languagekamuktha combhai ko chodna sikhayasexy story all hindihindi sexy kahani in hindi fontsexi khaniya hindi mehindi story saxdesi hindi sex kahaniyansexy khaniya in hindisexy story hindi freehindi sexy storisemami ki chodihindi sex story in voicesexy storiysaxy story hindi msexey stories comhindi sex stories read onlinehindi font sex kahanihindi sexy story onlinehindi sx kahani