ट्रेन की चोरनी को रखैल बनाया

0
Loading...

प्रेषक : संतु
हाय दोस्तों मेरा नाम संतु है और कामुकता के सभी इसके रीडर्स को मेरा हैलो. दोस्तों कुछ महीनो पहले मेरे साथ और एक घटना घटी है जो मुझे लग रहा है आप लोगों के साथ मुझे शेयर करना चाहिये तो मैं अपनी स्टोरी आप लोगों को सुना रहा हूँ और मेरा आप लोगों से रिक्वेस्ट है की ये स्टोरी पढ़ने के बाद आप लोग मुझे मैल ज़रूर करें तो अब मैं अपनी स्टोरी शुरू करता हूँ ये आज से 7 महीने पहले की बात है जब मेरा पोस्टिंग दिल्ली मे हुआ है तो मैं अपना बिस्तर बाँध कर दिल्ली की ओर रवाना हुआ. मैं ट्रेन से जा रहा था मैने रिज़र्वेशन करवाया हुआ था.
मैं जिस ट्रेन से सफ़र कर रहा था उसमे ज्यादा भीड़ नही थी मैं खिड़की के पास वाली सीट पर बैठा हुआ था. करीब रात के 11.30 बज चुके थे ट्रेन एक स्टेशन पर आकर रुकी तभी मेरे कंम्पारटमेंट में एक लेडी चड गयी शादी शुदा नही थी पर साड़ी पहने हुये थी पीले कलर की गोरी थोड़ी मोटी बहुत सेक्सी लग रही थी तभी मैं उस औरत को देखता ही रह गया वो औरत मेरे बगल से होकर चली गयी और मैंने पीछे मुड के देखा तो उसकी गांड को देख कर मैं फिदा हो गया फिर मैंने अपना सिर घुमा लिया कुछ सेकेंड के बाद मैंने देखा की वो मेरी तरफ आ रही है वो आई और मेरे बाजू वाली सीट पर अपना बेग रखा और उसकी सीट पर मेरा बेग था.

उसने मेरे बेग को पकड़ा और नीचे फेक दिया मैं बेठा हुआ सब देख रहा था अब मुझे गुस्सा आ गया मैने उससे कहा की आपने मेरा बेग ऐसे क्यों फेक दिया? उसने कहा मुझे क्या पता ये आपका है मेरी सीट पर था तो मैने फेंक दिया. मुझे तभी और गुस्सा आया वो औरत थी करके मैने उससे ज्यादा कुछ नही कहा मेरा मन तो तभी कर रहा था की इस खाली ट्रेन मे साली की गांड ही मार दूँ फिर भी मैने उसे कुछ नही कहा तभी रात के करीब 12 बज चुके थे तभी उसने अपने बेग से एक चादर निकाला और बर्थ पर बिछा दिया मैं उसे साइड से देखे जा रहा था.
उसने अपने बेग से एक छोटा सा बिस्किट का पैकेट निकाला और खाने लगी तभी उसने मुझसे पानी माँगा मैने तुरंत गुस्से मे कह दिया नही है फिर मुझे लगा छोड़ यार औरत है दे देता हूँ मे सोच ही रहा था की मैने देखा उसने अपने दोनो पैरो को मेरी सीट पर रखा हुआ है बेग के उपर रख कर बैठ गई अब मुझे फिर से गुस्सा आया तभी मैने देखा उसका पैर क्या सुन्दर है एकदम गोरा यार सच बता रहा हूँ उसके पैरो को देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया तभी मैने शान्त हो कर उससे कहा की आपने मेरे बेग के उपर पैर क्यों रखा तो उसने कुछ नही कहा तभी मैंने उसके पैरो को पकड़ कर अपने बेग से नीचे हटा दिया.

करीब रात के 12.30 हो गये थे मुझे प्यास लगी तो मैने बेग से पानी का बोतल निकाला मैने पानी पिया मैने देखा की वो मेरी तरफ देख रही है मैं समझ गया की वो पानी पीना चाहती है फिर मैने सोचा यार छोड़ जो हुआ सो हुआ इसे पानी दे देता हूँ बेचारी प्यासी है मैने उसे पानी दिया तभी मैने देखा साली रंडी ने मेरी बोतल को मुँह से लगा कर पानी पी लिया मुझे फिर गुस्सा आया पर मैं उससे इतना तंग आ गया की और पूछो मत मैंने फिर कुछ नही कहा अब वो सो गई मुझे तभी लगा की अब मुझे भी सोना चाहिये मै भी अपनी सीट पर जा कर सो गया मेरा बीच का बर्थ था तो मै उपर चढ़ गया और वो औरत नीचे सो गई कुछ देर बाद वो मुझसे बात करने लगी मुझसे पूछने लगी.
लेडी : आप कहाँ जा रहें है?
मे : मैने कहा दिल्ली मैने पूछा और आप?
लेडी : मैं भी दिल्ली मे जा रही हूँ.
फिर मैने कहा उससे गुड नाइट क्योकी मुझे बहुत गुस्सा आ रहा था उस औरत के उपर साली रंडी ने मुझे बहुत डिस्टर्ब किया मेरी जगह अगर दूसरा कोई होता तो साली की गांड मार कर चोद देता अब मैं सो गया थोड़ी देर बाद मैने देखा की वो कहीं जा रही है मैं चुपचाप देखने लगा मैने सोचा वो बाथरूम जा रही होगी 5 मिनिट हो गये वो अब तक आई नही मुझे शक हुआ मै बाथरूम की तरफ जाने लगा पर वो मुझे दिखी नही मैने थोड़ा और आगे जा कर देखा की तो वो किसी का बेग सर्च कर रही है.

मैने दूर से ही देखा ट्रेन मे लाइट ऑफ थी थोड़ी सी रोशनी हो रही थी तो मैने उसी मे से उसे देख लिया और मेने पीछे से वीडियो बना लिया उसके बाद मैं अपनी सीट पर आकर चुपचाप सो गया थोड़ी देर बाद वो भी आ गई मैने देखा की उसने बहुत सारा कैश और कुछ ज्वेलरी अपने बेग मे भर ली उसके बाद मैने देखा की उस औरत ने मेरे बेग को खोल के मेरे बेग से 5000 कैश निकाल लिये मै सोच नही पाया की मैं क्या करूँ फिर मैने सोचा इसको सुबह रेल्वे पुलिस को पकड़ा दूँगा उसने मेरे बेग पर अपना हाथ साफ कर लिया रात के करीब 3.30 बज चुके थे तभी एक टी.टी आया और हम लोगों से टिकट माँगने लगा मैने अपना टिकट दिखाया. अब टी.टी ने उससे पूछा आपका टिकट दिखाओ. उसके पास टिकट नही था क्योकी वो सुबह ट्रेन से भागने वाली थी उसे पता नही था की टी.टी अचानक इतनी रात मे टिकट चेक करने आ जायेगा वो टी.टी को बोलने लगी की उसके पास टिकट नही है टी.टी तो बहुत जिद्दी था वो उसे छोड़ ही नही रहा था.

अब मैंने सोचा की इस लड़की का सच टी.टी को बता दूँ की तभी बगल से ज़ोर ज़ोर की आवाज़ आई हम सब ने जाकर देखा तो जिन लोगों के बेग उस औरत ने साफ किये थे वही लोग चिल्ला रहें थे फिर टी.टी ने कहा अभी सबका बेग चेक होगा कोई यहाँ से नही हीलेगा तो मैं और टी.टी और कुछ 3 लोग सभी यात्रीयों का बेग चेक कर रहे थे हालाकिं मुझे पता था फिर भी मैं खामोश था ना जाने क्यों अब उस औरत की बारी थी मैने तो सोचा की बेटा अब तो साली गयी मुझे बहुत परेशान किया छीनाल ने उसकी बेग खोलते ही मेरा कैश और बाकी का सामान सब निकल आया सब लोग चिल्ला रहे थे की इसे जैल मैं डालो अब वो पूरी तरह फंस गई थी टी.टी ने कहा आप सब शान्त हो जाये इसे मैं छोड़ूँगा नही ये तो कम से कम 5 साल के लिये अंदर जायेगी.

अब वो औरत रोने लगी और टी.टी से मिन्नते करने लगी की उसे छोड़ दे अब सब लोग अपनी अपनी जगह पर चले गये टी.टी मेरे पास आकर बैठा उस औरत को साथ में लेकर अब मैने टी.टी को वो वीडियो क्लिप्स दिखाया वो औरत और रोने लगी मुझसे मिन्नते करने लगी की मैं कुछ करूँ मैने बोला मैं कुछ नही कर सकता अब तुम गई अंदर मैने उससे कहा की तूने मेरे साथ जो किया रात भर तू क्या उसे भूल गयी उसे तुझ जैसी औरत के साथ तो ऐसा ही होना चाहिये इस बीच मेरी टी.टी से अच्छी दोस्ती हो गई टी.टी कहने लगा आप नेक्स्ट स्टेशन पर मेरे साथ आये आपका वो वीडियो क्लिप्स सबूत के तोर पर चाहिये.

मैने कहाँ हाँ ज़रूर कोई बात नही अब वो औरत हमारे पैरों पर गिडगिडाने लगी तभी टी.टी ने गाली दी छीनाल चुप कर वरना तेरी गांड मार दूँगा और 10 साल के लिये अंदर डाल दूँगा तभी टी.टी ने मुझसे कहा ज़रा इस औरत को देखो मैं बाथरूम से अभी आया मैने कहा हाँ ठीक है टी.टी गया मैने उसे पकड़ के रखा था उसकी हालत डर के मारे इतनी खराब थी की उसकी साड़ी के उपर उसका कोई कंट्रोल नही था तभी उसकी साड़ी का पल्लु गिर गया और साड़ी ढीली हो गई उसकी तरबूज जेसी चूची को देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया मुझे मन ही मन उसको चोदने का मन कर रहा था मैने उसको कस के पकड़ा था तभी वो मेरे हाथ को अपने दातो से काटने लगी मैंने एक थप्पड़ मारा उसे साली मुझे काटती है तो मैने गुस्से मे उसे सीट पर झटका मारते हुये उसके उपर चढ़ गया मतलब उसे कस के ऐसे दबाया की उसकी मोटी गांड के उपर मेरा खड़ा हुआ लंड मुझे बहुत अच्छा लगने लगा की तभी टी.टी आया.

अब करीब 5.30 बज चुके थे हम सब ट्रेन से उतरे और उन लोगो ने अपनी शिकायत लिखाई और चले गये टी.टी ने मुझे रुकने को कहा तो मैं रुक गया उस छीनाल को अंदर ले जाकर बंद कर दिया वो बहुत रो रही थी उन लोगो ने उसे अपनी गिरफ़्त मे ले लिया मैं वहीं बैठा था की तभी मुझे क्या हुआ मुझे पता नही मै तुरंत टी.टी के पास गया और टी.टी को बोलने लगा सर इस औरत का अब क्या होगा? तो उसने कहा क्या होगा कल उसे कोर्ट ले जायेगे फिर जैल होगी तभी मैने कहा की ये मामला क्या यहाँ रफ़ा दफ़ा नही हो पायेगा? उसने मुझे थोड़ी देर देखा और कहा क्यों तुम ये बात क्यों बोल रहे हो? मैने कहा नही आप बताये ना की कुछ बंदोबस्त होगा तो खर्चा मैं करूँगा तभी उसने कहा हाँ हो जायेगा अंदर सर बैठें है उन्हे अगर कुछ माल दिया जाये तो हो जायेगा.

मैने कहा ठीक है तभी मैने कहा चलिये अंदर जाकर सर से बात करतें है हम गये टी.टी सर से बात करने लगा सर बोलें ठीक है मैं 12000 लूँगा मैने कहाँ ठीक है टी.टी ने अब मुझे कहा यार इस औरत के लिये तू इतना पैसा अपना क्यों बर्बाद कर रहा है? मैने कहा नही मालूम मुझे इस पर दया आ रही है और इस छीनाल ने जो मेरे साथ रात भर किया उसका बदला लेना है इससे इसे मैं अपने साथ ले जाऊंगा थोड़ी देर बाद सर ने हम सब को अंदर बुलाया उस रंडी का तो रो रो कर बुरा हाल था अब सर ने औरत से पूछा तू ये सब काम क्यों कर रही थी? तो वो रोने लगी और कहने लगी साहब आज के बाद से में कभी नही करूँगी मुझे जाने दीजिये सर बोले नही तू अब 5 साल के लिये जायेगी जैल सर ने पूछा की तेरे घर मैं और कौन है?

उसने कहा कोई नही उसका एक पति था वो उसे छोड़ के चला गया वो अब अकेली है और शान से रहने के लिये लोगो को ट्रेन मे लूटती रहती है तभी उससे सर ने कहा देख ये भाई साहब तुझे छुड़ा के ले जा रहे है अपने साथ 12000 मैं तुझे इनके साथ जाना पड़ेगा अगर आगे से भागने की कोशिश की या गड़बड़ की तो सारी उम्र के लिये अंदर डाल दूँगा अब उसने रोना बन्द कर दिया और उसने मेरी तरफ देखा की जैसे वो इशारो मैं कहना चाह रही हो की थैंक्स मैने सर को 12000 कैश दिया और सर ने एक एग्रीमेंट साइन करवाया और उसका भी साइन लिया मैने टी.टी को 4000 दिये अब टी.टी ने मुझे 2 टिकट दिये और कहाँ जाओ इसे लेकर चल जाओ मैने अपना सामान उठाया और अपने रुमाल से उसके आँसू पोछे और उसका हाथ पकड के जाने लगा.

Loading...

मैने फिर दूसरी ट्रेन पकडी और उसे ट्रेन मे लेकर आया और सारे रास्ते मैं उसे अपनी नज़रों के सामने कहीं जाने नही दिया कहीं साली 420 भाग ना जाये यहाँ तक की वो ट्रेन मे बाथरूम करने गई तो मैं भी उसके पीछे पीछे जाने लगा ट्रेन मे उसने मुझे बोला थैंक्स मुझे मुसीबत से बचाने के लिये मैं तब मन ही मन सोच रहा था की तेरी मुसीबत तो अब शुरू होगी कल रात तूने मुझे तडपाया उसका हिसाब लेना है मैने कहा ठीक है तो उसने मुझे बताया की उसका पति उसे छोड़ के चला गया और उसे बड़े लोगों के जैसा रहने का बहुत शोक है इसीलिये वो ट्रेन मे बड़ी बड़ी चोरीयां करती है उसने मुझसे कहाँ आप मुझे कहाँ ले जा रहें है? मैने कहाँ मेरे साथ मेरे नये घर मे उसने कहा नही मुझे रास्ते मे उतार दीजिये मैं चली जाउंगी.
मैने कहा मैने तुम्हे 16000 मे छुड़ाया है उसका क्या होगा तब वो चुप हो गयी मैने कहाँ मेरे साथ चल मेरे घर का सारा काम तू कर देना मेरे साथ रहना उसने बोला नही मुझे जाने दीजिये मैने कहाँ चुप छीनाल रंडी तेरा वीडियो क्लिप्स मेरे पास है अभी केस कर दूँगा तो 10 साल की जैल हो जायेगी तब वो चुप हो गयी मैने उसे ट्रेन मे कहा चल मेरा पैर दबा उसने दबाया फिर शाम को हम दिल्ली मे उतरे मेरी कंपनी ने मुझे एक घर दिया है मैने टेक्सी पकडी और उसे लेकर मैं घर चला आया मुझे बहुत भूख लगी थी तो मै रात के खाने के लिये कुछ खाना लाया मेरा रूम बहुत ही छोटा है सिर्फ़ 1 बेडरूम 1 किचन 1 बाथरूम मैने नीचे बिस्तर लगाया मैंने उससे कहा तुम खाना खा लो आज से तुम मेरे ही साथ ही रहोगी.

सॉरी दोस्तों मै उसका नाम और उम्र बताना तो भूल ही गया उसका नाम है शालू और उम्र है 33 साल, गोरी है मोटी है पर कोई राजकुमारी से कम नही है उसका बूब्स तो तरबूज के साइज़ का है और गांड इतनी बड़ी की दो हाथ से भी पकड़ने मे तकलीफ़ होती है) उसने कहा ठीक है अगर भागने की कोशिश की तो फिर समझ लेना क्या होगा उसने कहा ठीक है मैने बिस्तर लगाया और दोनो सो गये वो मेरे बगल मे ही सो गयी उसे भी नींद नही आ रही थी और मुझे भी मुझे बहुत सेक्स चढ़ रहा था तो मैंने अपना हाथ पेन्ट के अंदर डाल लिया मैं उसकी पीठ को देखे जा रहा था और उसकी बड़ी सी गांड को और पेन्ट के अंदर से ही मूठ मारने लगा उसने अचानक पीछे मुड़ कर मुझे देख लिया की मैने अपना हाथ पेन्ट के अंदर डाला हुआ था मैने बोला कहो क्या बात है उसने कहा मैं आप को क्या कह कर बोलू साहब? मैने कहा तुम मुझे जान कह कर बोलना तो उसने मुझे कहा आप बहुत अच्छे हो जान और वो पीछे मूड कर सो गई.

Loading...

मैने मन ही मन सोचा मैं और अच्छा मैं कितना कमीना हूँ तुझे कल से पता चलेगा वो भी सो गई और मैंने शालू को याद करके बाथरूम जा कर मूठ मारा और उसके बगल मे आकर सो गया नेक्स्ट दिन सुबह मैं उठा और नहा के फ्रेश हो गया शालू अभी भी सो रही थी अब मैने सोचा अभी से इससे बदला लेने का टाइम शुरू होता है मैने उसे आवाज़ लगाई पर वो उठी नही मैने अपना शेतानी आइडिया लगाया और उसके पीछे जाकर उसकी गांड के सामने गया वो 2 दिनो से वही साड़ी पहने हुई थी तो साड़ी काफ़ी ढीली हो गई थी मैने गांड से साड़ी को थोड़ा नीचे किया और एक थप्पड़ मारा अब वो हडबडा के उठ गयी मैने कहा छीनाल रंडी कितनी देर तक सोयेगी चल उठ जा नाह कर फ्रेश हो जा उसने मुझसे कहाँ चाटा क्यों मारा.

मैने कहा मुझसे कभी सवाल मत करना वरना और मारूँगा तो वो चुप हो गयी और चुपचाप बाथरूम में चली गयी कल से मुझे ड्यूटी जॉइन करना था तो मुझे सुबह बाज़ार जाकर घर का सामान खरीदना था मैं सोच ही रहा था की तभी वो बाथरूम से बाहर आई यार क्या बताऊँ क्या लग रही थी वो उसके पास कपड़े नही होने के कारण उसने वही साड़ी पहन ली साड़ी गंदी हो चुकी थी तो मैंने कहा साड़ी खोल दे गंदी चीज़ मत पहना कर मेरे सामने तो उसने कहा तो मे क्या पहनू? मैं नही खोलूँगी मुझे गुस्सा आया मैंने कहा मुझे मना करती है रंडी की बच्ची मैने साड़ी पकडी और ज़ोर से खींच के पूरी उतार दी. अब वो सिर्फ पेटीकोट मे थी मुझसे रहा नही गया मैंने उसको नीचे ज़मीन मे पटक दिया और उसके बूब्स को ज़ोर से पकड़ लिया वो मुझसे कहने लगी मुझे छोड़ो आप क्या कर रहे हो मैने कहा चुप हो जा चिल्ला मत मै उसके गुलाबी होठो को ज़ोर से किस करने लगा और बूब्स दबाने लगा वो दर्द से उम्म बहुत लग रहा है छोड़ो मुझे उईईईईईइमाँ वो मुझे किस करने से रोक रही थी तो मैंने एक चाटा मारा वो चुप हो गयी फिर मैने उसे छोड़ दिया हमने सुबह नाश्ता किया और शालू को कहा छीनाल चल मार्केट चल मेरे साथ घर का समान खरीदना है मै उसे मार्केट ले गया और घर का ज़रूरत का समान खरीद कर लाया छोटा सा बेड खाना बनाने के लिये स्टोव और भी कुछ लाया दोपहर मे उसने मेरे लिये खाना बनाया और हम दोनो ने खाया और सो गये शाम को मैं उसे फिर से घूमाने ले गया ताकि उसे मुझ पर भरोसा हो जाये.

ये मेरे लिये ज़रूरी था क्योकी नेक्स्ट दिन जब मैं काम पर चला जाऊंगा उसे अकेला छोड़ कर फिर कहीं वो भाग ना जाये इसीलिये मै उसे शाम को घूमाने ले गया और लास्ट मे उसके लिये ब्रा पेंटी और बहुत सारी साड़ी और एक गोल्ड का हार खरीद के दिया हार से वो बहुत खुश हो गयी मैने उसके चेहरे पर ख़ुशी देखी साली ने आज मेरा फिर से खर्चा करवा दिया हमने बाहर ही खाना खाया अब हम घर पहुंचे मैने दरवाज़ा लगाया औए उसे अचानक एक झटके मे नीचे गिराया और उसकी साड़ी को खींच के निकाल दिया और ब्लाउज को पकडा और एक झटके मे फाड़ दिया उसे पता ही नही चला की ये अचानक उसके साथ ये क्या हो रहा है उसके साथ उसने कहा ये क्या कर रहे हो कपड़े क्यों फाड़ रहे हो? मैने कहाँ तुझे चोदना है उसने कहा नही मुझे छोड़ो मैने कहाँ रंडी चुप कर नही नही तो तेरी चूत और गांड मार दूँगा वो डर गयी.

मैने उसे पूरा नंगा कर दिया अब मे उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से मसल रहा था और मुँह मे लेकर चूस रहा था अब मैने उसके पैरो को चोड़ा किया और अपना मुँह उसकी चूत मे डाल कर सहलाने लगा उसकी चूत पर बाल थे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था अब वो भी मेरा साथ देने लगी और मुँह से आवाज़ निकालने लगी उहहमाआ माआआआ माआअ मैं मर गयी जान और चाटो मेरी चूत को जान मैं बहुत सालो से प्यासी हूँ मैने कहाँ तू चिंता मत कर मेरी जान आज मैं तुझे चोद के तेरी माँ चोद दूँगा मैने कहा चल अब नया वाला ब्रा और पेंटी पहन और वो गोल्ड का हार भी मैं देखना चाहता हूँ तुझे तू केसी लगती है.

उसने सिर्फ़ ब्रा और पेंटी पहनी यार क्या बताऊँ क्या गजब लग रही थी यार अब मैंने उसे गोद मे उठाया और नीचे सुलाया और ब्रा और पेंटी को खोला मेरे सामने एक पतली लंबी लौकी थी मैने उसे उठाया और उसकी चूत मे मेरा लंड पेलने लगा अब वो चिल्ला रही थी मे मर जाउंगी निकालो निकालो मैने उसके गाल पर बूब्स पर गांड पर 2-2 चाटे मारे मैने उससे कहा साली छीनाल ट्रेन मे तूने मेरे साथ जो किया उसे मैं भुला नही पाया उसी का बदला ले रहा हूँ मैं उसने कहा माफ़ कर दो बहुत बड़ी ग़लती हो गयी मुझसे मैने कहा मुँह बंद कर साली तेरे भरोसे की माँ चोद दूँगा आज मैं अब मैने अपना लंड उसके मुँह मे घुसा दिया उसको ज़बरदस्ती चटवाया उसको मैने इतना मारा की वो हल्का हल्का रोने की हालत मे आ गयी मैने उसकी चूत मे हल्का सा अपना लंड डाला.

उसके बाद एक ज़ोर का शॉट मारा मेरा लंड अंदर चला गया और तभी साली ने बड़े बड़े नाख़ून मेरी पीठ पर चुबा दिये उसने मुझे कस के पकड़ा और ज़ोर से चिल्लाने लगी मैं मर गयी ऊहह माँ जान मुझे चोदो और ज़ोर से मैं आज मर जाउंगी छोड़ना मत मुझे मेरी जान और चोदो मुझे ऊवू मैं ज़ोर ज़ोर से उसे चोद रहा था जान मुझे अपनी रखैल बना लो मैं तुम्हे बहुत प्यार करती हूँ मुझे चोद के मेरे भोसड़े की माँ चोद दो पूरे रूम में सिर्फ़ छप छप की आवाज़ आ रहा थी अब वो झड़ने वाली थी कुछ देर बाद में भी झड़ गया और मैने मेरा माल उसके मुँह में डाल दिया और वो उसने पी लिया रात के 12 बज चुके थे में झड़ने के बाद उसके बदन से लिपट कर 5 मिनिट तक सोया रहा अब मे फिर से खड़ा हो गया और उसे गोदी मे उठाया और घोड़ी के जैसा बनाया मेरी सबसे प्यारी चीज़ उसकी गांड मैने उसकी गांड मे अपना लंड घुसाया वो चिल्ला उठी आआहह निकालो निकालो मैं मर गयी वो मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी पर मैने उसे कस के पकड रखा था और गांड मे ज़ोर ज़ोर का शॉट मारता गया.

अब उसे इतना दर्द हो रहा था फिर भी उसे कुछ पता नही चल रहा था की उसके साथ क्या हो रहा है वो अब सिर्फ़ गग्ग्गूणन ग्गगूउंण की आवाज़ निकाल रही थी मै 30 मिनिट तक उसकी गांड मारता गया. फिर मैने उसका मुँह खोला और मेरा लंड उसके मुँह मे डाल दिया और उसे लंड साफ करवाया और उसके मुँह मे ही लंड घुसा के चोदता रहा और लास्ट मे अपना स्पर्म उसके मुँह मे ही डाल दिया और वो पी गई अब उसके बदन मे बिल्कुल ज़ोर नही था फिर भी मैने उसे नही छोड़ा उसे सीधा किया.

उसकी चूत मे अपना लंड फिर से डाल कर चोदने लगा मुझे पता ही नही चला की कब वो बेहोश हो गई मैने उसके बूब्स पर अपना रस फिर छोड़ा और उसे होश मे लाया और उसके बदन को मैने साफ किया और उसकी गर्म चूत मे मैंने फिर से अपना लंड घुसाया और उसकी बूब्स को बच्चो की तरह चूसता रहा और हम कब सो गये पता ही नही चला दूसरे दिन सुबह मैं जल्दी उठा और नहाकर फ्रेश हो गया वो छीनाल रंडी वेसे ही नंगी सोई थी मैने आवाज़ लगाई वो उठी नही अब मैं उसकी गांड के उपर चड गया और मेरे लंड को फिर से घुसा दिया अब वो दर्द की वजह से उठ गयी और मुझे कहने लगी कल रात जेसे आपने मुझे चोदा मुझे बहुत मज़ा आया मैं आपकी रखैल बनना चाहती हूँ और अभी मेरी गांड आप मत चोदो मे मर जाउंगी.

मैने कहाँ हाँ चल ठीक है जा अब जाकर फ्रेश हो कर आ वो टायलेट गई और मैं किचन मे तभी शालू चिल्लाई मैं चोक गया तो देखा की शालू डरती हुई मेरे पास आई और रोने लगी और कहने लगी की वो टायलेट नही कर पा रही है उसे बहुत दर्द हो रहा है मैने उसे चुप कराया और कहा चलो मैं देखता हूँ हम जैसे गले मिलते है वेसे ही पोज़ मे मैने उसे कस के पकडा और टायलेट के उपर दोनो बैठ गये मैने उसकी गांड को दोनो तरफ़ खींचा तभी पेशाब कर पाई तभी उसने मुझे अपने पेशाब से मुझे नहला दिया मैने तभी उसे कस के 2 थप्पड़ मारा साली मै अभी नाहया था तूने सब ख़राब कर दिया अब मैं ओर वो एक साथ नहाये उसने मेरे लिये टिफिन बनाया और मैं 10 बजे ऑफीस निकल गया मैने हालचाल जानने के लिये फोन किया तो उसने कहा वो ठीक है और घर का काम कर रहीं है मैं 5 बजे घर चला आया जैसे ही मैंने बेल बजाया उसने दरवाजा खोला उसने साड़ी पहन रखी थी.

मुझे फिर गुस्सा आया मैंने साड़ी खींच के उसे नंगा कर दिया और उसकी गांड मे एक बार फिर लंड घुसा दिया वो रोने लगी मैने फिर कहा मैं जब ऑफीस से घर आऊंगा तो मुझे तू साड़ी मे नही दिखनी चाहिये उसने कहा ठीक है अब मैं नंगी ही रहूंगी मैने उससे कहा मेरे लिये दूध ला मुझे पीना है वो मेरे लिये दूध लाई मैने दूध लिया और उसके नंगे बदन पर दूध डालने लगा और दूध उसकी चूत पर गिरता गया और मैं चूत मे मुँह लगा के उसका दूध पीने लगा था फिर शाम को मैने उससे कहा चल मुझे नाच के दिखा अपनी चूत में उंगली मार मार के दिखाना वो वेसे ही नाची फिर वो खाना बनाने लिये किचन मे चली गयी मैं भी उसके पीछे चल दिया.

मैंने उसे पीछे से पकड़ा और वो खाना बनाने लगी फिर दो दिन बाद जब उसे दर्द से छुटकारा मिल गया तभी शाम के टाइम वो खाना बना रही थी और मैंने पीछे से जाकर उसकी गांड मैं लंड डाल दिया और खड़ा खड़ा चोदने लगा और वो खाना बनाने लगी अब हर रात को मैं उसे चोदता हूँ फिर मैने उससे कहा मुझे तेरा दूध पीना है उसने कहा जान इसके लिये तो एक बच्चे को जन्म देना पड़ेगा और उसी दिन रात को मैंने उसे चोदा पहले उसकी टांगो को चूमता हुआ चूत मे जाकर खुजली की अब उसकी एक टांग को उठाया और अपने लंड को उसकी चूत मे डाल दिया. दोस्तों ये अब रोजाना का काम हो गया था..

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


desi hindi sex kahaniyanhindi sexy istorisex stories in hindi to readall hindi sexy storysexy adult story in hindianter bhasna comsagi bahan ki chudailatest new hindi sexy storysexy hindi story comwww hindi sex kahanisax hinde storesexistorihindi sex kahaniahindi sx kahanihindu sex storihindi sex katha in hindi fonthindi sexy story hindi sexy storybua ki ladkihindi sexy khanifree hindisex storieshindi font sex kahanihindi sax storysax stori hindehindi sex kahinisexy hindi story comsex hind storehinde sax khanisex story in hindi downloadhindi chudai story comsexy stroihindi sex story free downloadhinde sax storehindi kahania sexsex hindi stories comhindi sexy stroyhinde saxy storyindian sexy stories hindisagi bahan ki chudaisex stores hindi comhindi sexy stroessexi kahania in hindihindi sex story read in hindiarti ki chudaisex story download in hindiwww sex story hindisex hindi sexy storyhindi sex astorihind sexi storysex stories in audio in hindihindi sexy kahaniya newhindi sxiysex ki story in hindisexcy story hindisax hinde storesex sexy kahanihidi sax storysex stories for adults in hindisexy khaneya hindisexi storeyall sex story hindisexstorys in hindiall sex story hindisex store hindi mesexy stoeysex stories hindi indiahindi sexy stroyhindi sex historyhindi sexi kahanisexy adult hindi storysex stories in hindi to readsexey stories comsexy adult story in hindimaa ke sath suhagratsexy stoerihindi sex kahanihindi sexy kahani in hindi fontindian sex stories in hindi fontsexi hindi estorisexy stry in hindihindi sex stories read onlinestory in hindi for sexsexi stories hindihindi se x storiesnew hindi sexi storymummy ki suhagraathandi saxy storysexi hindi estorisex new story in hindihindi sxiysexy stotigandi kahania in hindibhai ko chodna sikhayahindi sexy story onlinehindi sex storewww hindi sexi storysexstory hindhi